दिल टूटने पर शायरी 

image credit : istock

image credit : istock

 साँस टूटने पर इंसान एक ही बार मरता है लेकिन दिल टूटने पर बार - बार मरता है 

image credit : istock

 टूट गया दिल मगर अरमान वही है मिल नहीं पाएंगे हम आपसे मगर फिर भी इंतजार आपका है 

image credit : istock

 किसी का दिल तोड़कर माफ़ी माँगना आसान है मगर अपना दिल टूटने पर किसी को माफ़ करना मुश्किल है 

image credit : istock

 दिल टूटने पर ये एहसास हुआ की बिन बुलाये मौत आ जाये पसंद है मगर किसी पर कभी दिल न आये 

image credit : istock

 कभी भी ख़ुशी में कोई शायरी नहीं लिखी जाती ये वो धुन है जो दिल टूटने पर बनती है 

image credit : istock

 दिल में कोई हड्डी नहीं होती तो फिर ये कमबख्त टूट कैसे जाता है 

image credit : istock

 दिल टूट गया अब बबाल क्या करे खुद ही पसंद किया था अब सवाल क्या करे 

image credit : istock

 सोचा नहीं था की ज़िन्दगी में ऐसा भी होगा रोना भी जरुरी होगा और आँसू भी छुपाने होंगे 

image credit : istock

 मिले मौका तो शिकायत जरूर करेंगे रब से, क्यों वो लोग छोड़ जाते है जिसे हम टूटकर चाहते है 

image credit : istock

 एक तू थी जो जख्म दे गई मुझे मेरा दिल तोड़कर मुझे ही ख़त्म कर गई