अपने आप को कैसे जाने – अपनाए ये तरीक़े

नमस्कार दोस्तों आपका दिल से स्वागत है तो दोस्तों आज हम बात करने वाले है की हम अपने आप को कैसे जाने यानिकि खुद को कैसे पहचाने इसके लिए हमें क्या करना चाहिए इसके बारे में बात करने वाले है। जो इंसान अपने आप को जान सकता है वो दुसरो की बातो को, दुसरो की भावनाओ को भी अच्छी तरह से जान सकता है।

अपने आप को कैसे जाने

अपने आप को कैसे जाने

जिस प्रकार इंसान के चहेरे दो होते है एक वो जो हमें दिखाई देता है और एक वो जो हमें दिखाई नहीं देता जिसकी वजह से इंसान की पहचान करना बहुत ही मुश्किल हो जाता है की ये इंसान अच्छा इंसान है या बुरा इंसान उसी प्रकार दो प्रकार की दुनिया है एक हमारे बहार और एक हमारे अंदर। 

हम दुसरो को तो ये कह देते की आपमें ये बुराई है आप अच्छे नहीं है लेकिन कभी भी ये नहीं करते है की में बुरा हु मेरे अंदर ये बुराई है क्योकि हम अपने आप को जानने का, समझने का प्रयास ही नहीं करते है लेकिन दूसरे लोगो को जानने का परखने का प्रयास जरूर करते है की ये इंसान कैसा है। 

जो भी इंसान खुद को जान लेता है वही महान है क्योकि स्वयं को पढ़ना बहुत ही मुश्किल है जो हर एक इंसान के लिए संभव नहीं है और जो इंसान खुद को ही नहीं जान सकता, खुद को पहचान नहीं सकता वो भला दूसरों को कैसे पहचान सकता है वो तो बस एक कर्म से या एक क्रिया से अनुमान ही लगा सकता है की ये इंसान ऐसा है।

दुसरो को हम तभी जान सकते है तभी समझ सकते है जब हम खुद को जान सके खुद को पहचान सके इसलिए किसी ने सच ही कहा है की जानना है या किसी को बदलना है तो शरुआत सबसे पहले खुद से करे तभी आप दुसरो को जान सकते है दुसरो को बदल सकते है।

जब तक हमें गाड़ी अच्छी तरह से चलाना नहीं आती तब तक हम दूसरे इंसान को गाड़ी चलाना नहीं सीखा सकते इसके लिए पहले खुद को गाड़ी चलाना सीखना होगा तब जाकर आप किसी अन्य इंसान को गाड़ी चलाना सीखा सकते है वैसे ही हमें सबसे पहले आपको अपने आप को जानने की बहुत जरुरत है तब जाकर आप किसी इंसान को जान सकते है। 

Things nan

जिस इंसान ने अपने आप को जान लिया यानिकि खुद को जान लिए उस इंसान ने खुदा को भी जान लिया हमारे पुराणों में भी कहा गया की ईश्वर और कही नहीं है बल्कि हमारे भीतर ही है बस हमें उसे जानने की जरुरत है और वो हम तब जान सकते है जब हम पहले खुद को जान लेते है।

अब सवाल ये होता है की हम खुद को कैसे जान सकते है ये सवाल बहुत ही कठिन है लेकिन उतना भी कठिन नहीं है जितना हम समझ रहे है और अगर इस सवाल का जवाब आपको मिल गया तो आपकी जिन्दगी में आधी समस्या तो ऐसे ही ख़त्म हो जाएगी कोई भी काम हम अच्छी तरह से तब कर सकते है जब हमें पता उस कार्य के बारे में सब कुछ पता होगा तभी हम उस काम को अच्छी तरह यानिकि बहेतर से कर सकते है।

अपने आप को समय दे 

आज इस दौड़  भरी ज़िन्दगी में इंसान के पास इतना वक्त ही नहीं की वो खुद को दे सके और खुद को जानने के लिए सबसे पहले खुद वक्त देना होगा हर दिन अपनी दिनचर्या में से ३० या ४० मिनिट ही खुद को मन को शांत करके अपने अंदर चल रहे विचार को समझे, सकारात्मक विचार करे और वो आपको पसंद हो वो करे हमेंशा अपने दिल की सुनो।

अपनी शक्तियों को पहचाने

आप जो चीजे अच्छी तरीके से कर सकते है उसका लिस्ट बनाये और करते रहिये तब आप अपनी अंदर की शक्तियों को अच्छी तरह से जान सकोगे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा। 

अपनी कमियां जाने

इंसान अपनी कमिया छुपाते है लेकिन ऐसा बिलकुल न करे ऐसा करने पर आप अपने आप को कभी नहीं जान पाओगे अपनी कमजोरियों को छुपाने के बजाय आप अपने कमियों को दूर करे। 

आदते जाने  

इंसान के अंदर अच्छी और बुरी आदते होती है तो अपने अंदर की बुरी आदतें को दूर करे, इंसान अपनी आदतों की वजह से पहचाना जाता है जब आप अपनी आदतों को जान लोंगे तो अपने आप को भी अच्छी तरह जान लोंगे इसलिए अच्छी अपनी बुरी आदतों को दूर करो और अच्छी आदते के लिए खुद का धन्यवाद करे। अधिक जाने

सफ़लता पाने का तरीका

”  पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद “