याद पर शायरी – Yaad Par Shayari In Hindi

 याद पर शायरी

—————–

याद पर शायरी

 

बैठे थे अपनी मस्ती में की अचानक तड़प उठे 

आ कर तुम्हारी याद ने अच्छा नहीं किया।

 

कभी याद आती है कभी उनके ख्वाब आते है 

मुझे सताने के सलीके तू उन्हें बेहिसाब आते है।

 

तुझे याद करना न करना अब मेरे बस 

में कहा दिल को आदत है हर धड़कन 

पे तेरा नाम लेने की।

 

हम तुम्हे याद करेंगे तुम हमें याद करना 

देखते है हिचकिया किसे आती है। 

 

गुजारी थी जो कल शाम सामने से मेरे 

उसी की याद में मेने सारि रात गुजर दी।

 

Yaad Shayari In Hindi 

 

सांसो कोबहुत देर लगती है आने में  

हर सांस पे पहले तेरी याद आ जाती है।

 

याद पर शायरी इमेज

 

खुदा करे की इस दिल की आवाज़ में 

इतना असर हो जाए जिसकी याद में 

तड़प रहे है हम उसे खबर हो जाए।

 

गुजर जाते है खूबसूरत लम्हे यूँ ही 

मुसाफ़िरो की तरह यादे वही खड़ी 

रह जाती है रुके रास्ते की तरह।

 

तू देखा सकता काश रात के पहरे में मुझको 

कितनी बेदर्दी से तेरी याद मेरी नींद चुरा लेती है।

 

सिलसिला ख़त्म हुआ जलने जलाने वाला

अब कोई याद नहीं आता यहाँ तुम्हारे सिवा।

 

हर वक्त तुम्हारी याद आती है गुज़रे हुआ वक्त 

याद दिलाती है चल देते है ये क़दम मेरे सुनता है

ये दिल जब नाम तेरा।

 

जिसकी यादो में रात जाती है जिसके लिए 

आँखे भर आती है मुश्किल है उसको ये कह पाना 

तेरे बिन धड़कन भी थम जाती है।

 

मुझे नींद की इजाजत भी उनकी यादों से लेनी पड़ती 

जो खुद आराम से सोये है मुझे करबटो में छोड़ कर।

 

हमारी क़िस्मत में तो सिर्फ यादे हे तुम्हारी 

जिसके नसीब में तू है उसे जिंदगी मुबारक।

 

याद पर शायरी इन हिन्दी

 

कभी मिलो तो बताओ कैसे तड़पाती है 

आपकी यादे 

दिल से धड़कन निकाले जाती है आपकी यादे।

 

जिंदा रहे तो हर दिन तुम्हे याद करते रहेंगे

भूल गए तो समझ लेना खुदा ने हमें याद

कर लिया।

 

Yaad Shayari 

 

प्यार और दोस्ती का रिश्ता भी कितना 

अजीब होता है 

मिल जाये तो बातें लंबी और 

बिछड़ जाये तो यादें लंबी।

 

तू याद रख या न रख 

तू याद है  ये याद रख।

 

जीने की कुछ वजह होनी चाहिए 

वादे ना सही यादे तो होनी चाहिए।

 

कितनी खूबसूरत लगती हे ये दुनिया जब 

कोई अपना कहता है की तुम बहुत याद आ रहे हो।

 

तेरी तस्वीर में कुछ यादे मेरी भी है 

कुछ पलो की बातें अधूरी भी है।

यादो पर शायरी २०२२

 

याद करते है तुमको बहुत ज्यादा 

तुम्हारे बिना जिंदगी है हमारे बिल्कुल आधी।

 

वो गलियाँ वो चौबार अब वो राहे याद आती है 

सोये थे जिन बाहों में हम वो बाहें याद आती है।

 

वो जब अपने शहर में पहली दफा ही मुझको देखि थी

फिर जो मिलाई थी उसने वो निगाहें याद आती है।

 

वो फिर मुझे याद आने लगे है 

जिन्हे भूलने में ज़माने लगे है।

 

करीब तो बहुत हो तुम 

मग़र सिर्फ मेरे यादों में।

 

अपनों की यादें खुशबू की तरह 

होती है चाहे कितनी भी खिड़की 

दरवाज़े बंध कर लो हवा के झोंके के 

साथ अंदर आ ही जाती है।

—————-

कभी तुम्हारी याद आती है कभी तुम्हारे 

ख़्वाब आते है मुझे सताने के तरीके तो 

तुम्हें बेहिसाब आते है।

 

जिनका मिलन नहीं होता क़िस्मत में 

उनकी यादें कसम से कमाल की होती है।

यादो पर शायरी १

 

 

मुस्कुराना कौन सा मुश्किल काम है 

बस तुम्हे याद ही तो करना पठता है।

 

सुबह शाम तुझे याद करते है

हम और क्या बताए की तुमसे 

कितना प्यार करते है। 

 

ख्वाहिश बस इतनी  सी है

जब भी मै याद करू तुम्हे 

तुम महसूस करना मुझे।

 

तुझे याद करना भी एक 

अहसास है लगता है हर पल तू मेरे पास है। 

 

एक तरफ़ा मोहब्बत के यही बात है 

वो याद तो आती है लेकिन याद नहीं करते।

 

निभाने  वाले आपकी हर गलती माफ कर देते है 

और छोड़ने वाले बिना ग़लती के छोड़ जाते है। 

यादों पर शायरी २

 

यादों को फ़रमाइश भी 

बड़ी कमाल की होती है 

सजदा वही होता है 

जहाँ दिल की हार होती है। 

 

आपकी याद आति रही रात भर 

चश्म -ए -नम मुस्कुराती रही रात भर। 

 

किस तरह से मुझसे है 

तेरी याद को हमदर्दी 

देखती है मुझे तन्हा 

तो चली आती है।

 

उठाकर देखि मैने आज 

यादों की पुरानी क़िताब 

पिछले साल इन्ही दिनों की 

बात ही कुछ और थी। 

 

यादों से दिल भरता नहीं 

दिल से यादें निकलती नहीं 

यह किसी कश्मकश है 

आपको याद किये बिना 

दिल को चैन मिलता नहीं।

 

सिलसिला आज भी वही जारी है 

तेरी याद मेरी नींद पर भारी है।

यादो पर शायरी ३

 

 ” पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद “