पक्षी नहीं होंगे तो क्या होगा ? - Pakshi Nahi Honge To Kya Hoga

पक्षी पर्यावरण का एक हिस्सा हे पक्षीयो के होने से पर्यावरण संतुलन बना रहता हे यानिकि पर्यारवण की भोजन श्रृंखला में पशु - पक्षियों का एक महत्पूर्ण भूमिका हे इतना ही नहीं पक्षी धरती की शोभा भी बढ़ाते हे लेकिन आज के समय में प्रदुषण , जंगलो की कटाई , जंतुनाशक रसायण की वजह से कई पक्षी विलुप्त हो गए हे और कई विलुप्त के कगार पर हे ऐसे में हमें उनके प्रति उनका सरंक्षण , उनको बचाने की आवश्यकता हे नहिंतर हमारी नई पेढ़ी के लिए पक्षी सिर्फ तस्वीर बनके ही रह जायेंगे तो आज हम पक्षी नहीं होंगे तो क्या होगा इस बारे में बात करने वाले हे। 

पक्षी नहीं होंगे तो क्या होगा

पक्षी नहीं होंगे तो क्या होगा ? 

✅ प्रकृति की हर एक चीज दूसरी चीज से जुडी हुई होती हे ऐसे में अगर पक्षी ही नहीं होंगे तो इस धरती पर मच्छर, कीड़े , मछलियाँ की संख्या में बढ़ोतरी हो जाएगी यानिकि प्रकृति की एक चीज विलुप्त हो जाने से उसके साथ जुडी चीजों में असंतुलन पैदा होगा जिसकी वजह से प्रकृति की श्रृंखला पर विपरीत प्रभाव होगा क्योकि जब फसलों को बर्बाद करने वाले कीड़े मकोड़े को खाने वाले पक्षी नहीं होंगे तब कीड़े मकोड़े की आबादी ज्यादा हो जाएगी जिसकी वजह से हमारी फसलें बर्बाद हो जाएगी और जब फसलें बर्बाद हो जाएगी तो खाद्य प्रदार्थो की कीमत बढ़ जाएगी।

✅  कई पक्षी जो अपना ज्यादातर समय फूलो पर बिताते हे जो परागण में मददगार साबित होते हे कुछ फूल ऐसे हे जिसमे परागण पक्षियों के द्रारा होता हे जैसे की पक्षी फलो को खाते हे और फलो के बीज को दूर - दूर तक प्रसार में मदद करते हे ऐसे में अगर पक्षी ही नहीं होंगे तो ये प्रक्रिया रुक जाएगी जिसकी वजह से फल , फूलो की प्रजाति भी विलुप्त हो जाएगी जबकि न्यूजीलैंड में पक्षी की दो प्रजाति विलुप्त हो जाने से ग्लौक्सिीनिया नाम का पौधा भी विलुप्त के कगार पर हे यानिकि अगर पक्षी नहीं होंगे तो फल , फूल की कई सारी प्रजाति भी विलुप्त हो जाएगी। हमारे जीवन में पक्षियों का महत्व 

✅ पक्षी हमारे लिए मनोरंजन का एक भाग भी हे यानिकि कई स्थानों पर अलग - अलग प्रकार के रंगीन , सुन्दर पक्षी रखे जाते हे जो हमारे लिए मनोरंजन का साधन हे जबकि तालाबों में , सरोवरों में , समुद्र में जो पक्षी देखते ही हमारा मन प्रफुलित हो जाता हे ऐसे में हम कल्पना कर सकते हे की पक्षी न हो तो क्या होगा। पक्षी प्रकृति की शोभा में चार चाँद लगा लेते हे ऐसे में अगर वही नहीं होंगे तो क्या होगा जो नजारा हमें तालाबों में , सरोवरों में , समुद्र में दिखने को मिलता था वो मिलेगा क्या ? नहीं मिलेगा।

✅ कई पक्षी सफाई कर्मी होते हे जो पर्यारवण को स्वच्छ रखते हे लेकिन उनका अस्तित्व ही नहीं रहेगा तो पर्यावरण को स्वच्छ कौन करेगा ऐसे में नई - नई बीमारिया और रोग पैदा होगा।

✅ कई प्राणियों और हम इंसान भी अपने भोजन के लिए पक्षियों पर निर्भय हे ऐसे में अगर पक्षी ही नहीं होंगे तो प्राणियों का और हमारा अस्तित्व भी संकट में हे। इसलिए पक्षियों को बचाना , उनका संरक्षण करना हमारा अधिकार हे। 

" पढ़ने के लिए आपका दिल से धन्यवाद "

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

close button