हमारे जीवन में मौन का महत्व - Importance Of Silence In Hindi

नमस्कार दोस्तों तो आज हम बात करने वाले हे की हमारे जीवन में मौन का क्या महत्व हे यानिकि मौन रहने से हमें क्या - क्या फायदे होते हे। मौन रहना आपकी कमजोरी नहीं होती बल्कि आपकी शक्ति होती हे मौन रहने से इंसान खुद को और दुसरो को अच्छे से जान सकता हे। तो दोस्तों मुझे उम्मीद हे की आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आएगी। मौन की शक्ति

मौन रहने से क्या फ़ायदे होते हे ?

Power Of Silence In Hindi

" किसी से बहस करके जितने के बजाये उनको अपने मौन से पराजित करो क्योकि जो आपके साथ हमेंशा बहस करने को तत्पर रहता हे वो आपके मौन को कभी सहन नहीं कर पायेगा "

 जीवन में मौन रहने के दो सबसे बड़े फायदे हे और वो ये हे की मौन रहने से आप झूठ नहीं बोल सकते और दूसरा की आप किसी की निंदा नहीं कर सकते। जबकि आप कुछ बोलते हे तो बोलने में आपकी शरीर की शक्ति का वपराश होता हे जबकि मौन रहने से आपके शरीर की ऊर्जा शक्ति का संचार होता हे। मौन हमारे शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता हे। 

मौन की शक्ति 

मौन का अर्थ हे अंदर और बहार से चुप रहना। मौन में गजब की शक्ति होती हे। कई समस्या तो हमारे बोलने से पैदा होती हे यानिकि हमको ये लगता हे की हम सही बोल रहे हे लेकिन सामने वाला इंसान आपको गलत समझने लगता हे जिसकी वजह से समस्या पैदा होती हे इसलिए चुप रहना भी उचित हे क्योकि मौन में गजब की शक्ति होती हे जब कुछ बोलने लायक हो तभी हमें बोलना चाहिए नहीं तो हमारा मौन ही अच्छा हे। हमारे जीवन में शब्दों का महत्व

आपसे चाहे जितना हो सके आप उतना मौन रहे लेकिन एक बात याद रखे की आपका मौन मुस्कुराता होना चाहिए मुँह चढ़ाये के मौन रहना कई समस्या पैदा कर सकता हे इसलिए मुस्कुराता हुआ मौन रखना चाहिए। मौन रहने से हम सामने वाले इंसान की बातें अच्छी तरह से सुन सकते हे और उसे समझ भी सकते हे और इसी वजह से हमारी सोचने की और समझनी की शक्ति बढ़ती हे। मौन रहने से इंसान की पॉजिटिव सोच को बल मिलता हे। 

Importance Of Silence In Hindi 

कभी कभी हम गुस्से में आकर अपने परिवार को , अपने दोस्तों को कुछ भी बुरा बोल देते हे जिसे हमारे रिश्तो में झगड़ा, तनाव और दरार जैसी समस्याएं खड़ी होती हे और बाद में हमें ये एहसास होता हे की ये मैने गलत किया हे इसलिए ऐसी परिस्थिति से बचने के लिए हमारा मौन रहना एक सबसे अच्छा उपाय होता हे। 

जिस प्रकार आप अपने स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए योग , कसरत और पौष्टिक आहार लेते हे उसी तरह ही अगर हमें अपने मस्तिक को को स्वस्थ रखना हे तो हमें मौन रहना पड़ेगा। मौन से इंसान अपने अंदर की शक्ति का अनुभव करता हे मौन रहने से आंतरिक और मानसिक रूप से हमें शांति मिलती हे। 

हमारे जीवन में मौन का विशेष महत्व हे मौन से हमारी संकल्प शक्ति में वृद्धि होती हे अगर हम मौन रहे तो कई समस्या ऐसे ही हल हो जाती हे। जब हम कुछ बोलते हे तभी उलझन में पड़ते हे जबकि मौन रहने से हम वो उलझन से बच जाते हे लेकिन मेरा कहने का मतलब ये भी नहीं हे की आपको सिर्फ मौन ही रहना हे लेकिन उचित स्थान पर उचित परिस्थिति में हमें सोच समझकर बोलना चाहिए क्योकि जब आप कुछ शब्द बोलते हे तब आप उन शब्दों के गुलाम हो जाते हे लेकिन जब तक आप कुछ नहीं बोलते तब तक आपके शब्द आपके गुलाम होते हे। 

मौन रहने से हमारे मन की शक्ति बढ़ती हे आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भय , क्रोध , चिंता और व्यग्रता नहीं रहती। मौन रहने से आप दुसरो की बातो को ध्यान से सुन सकते हे और आपको वो हर एक बात अच्छी से याद रहेगा। आज कल हर जगह शोर होता हे जिससे हमें तनाव महसूस होता हे यानिकि शोर वाली आवाज जो हमारे कान के जरिये दिमाग तक पहुँचती हे और उसे कम करने के लिए मौन सबसे जरुरी हे। मौन रहने से हमारा आत्मविश्वास , एकाग्रता और हमारे मन की शक्ति बढ़ती हे। मौन रहने से हमारे शरीर में ऊर्जा का संचार होता हे जिसे हम अपना काम अच्छे से कर सकते हे। 

ये भी जरूर पढ़े। 

हमारे जीवन में पैसो का महत्व 

ज़िन्दगी बदलने वाले प्रेरक विचार 


" पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद "

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

close button