बादल क्या हे ? बादल के प्रकार और उनके रौचक तथ्य

ऐसा कहा जायें की बादल आकाश की शोभा हे तो ये बात गलत नहीं हे। तो आज हम बादल के बारे में बात करने वाले हे की बादल क्या होते हे ? बादल के कितने प्रकार होते हे इन सारे सवाल के जवाब आपको इस आर्टिकल के माध्यम से हम बताने वाले हे। किसानो के लिए बादल किसी वरदार से कम नहीं होते। 

बादल क्या हे ?


आकाश में मौजूद जलवाष्य के संघनन से बने जलकणों या हिमकणों की दश्यमान राशि को बादल कहा जाता हे दूसरे शब्दों में हम कहे तो पानी या बर्फ के हजारों नन्हे नन्हे कणों से मिलकर बने होते हे और ये कण इतने हल्के होते हे की वो हवा में आसानी से उड़ सकते हे। 

Cloud In Hindi




बादल के कितने प्रकार के होते हे ?

बादल कई प्रकार के और कई आकर के हो सकते हे। 

बादल चार प्रकार के होते हे। 


1 . उच्च बादल : ये बादल करीबन 5000 मीटर उंच्चे होते हे। 

2 . मध्यम ऊंचाई के बादल : ये बादल करीब 2000 से लेकर 5000 मीटर की ऊंचाई तक होते हे। 

3 . निम्न बादल : ये बादल 2000 मीटर के ऊंचाई तक होते हे और अंत में 

4 . ऊर्ध्वाधर रचना वाले स्तम्भाकार बादल 


बादल का निर्माण कैसे होता हे ?

आपके मन में ऐसा सवाल होता होगा की बादल में पानी आता कहा से होगा ? तो बादलो में जो पानी होता हे वो झीलों , तालाबों, सरोवरों , समुद्र , और नदियों का होता हे जो सूर्य की किरणों से बाष्पीभवन क्रिया से आकाश में हवा के स्वरुप जाता हे और आकाश में हवा इतनी ठंडी होती हे की वो पानी छोटी - छोटी बूंदो में परिवर्तन हो जाता हे और ऐसी करोड़ो छोटी - छोटी बूंदो मिलकर बादल का निर्माण होता हे। 

बादल के रौचक तथ्य - Cloud Facts In Hindi :

1 . बादल का वजन करीब पांच लाख किलो भी हो सकता हे और वो 1 - 1 .5 Km लंबा - चौड़ा भी हो सकता हे। 

2 . बादलो एक स्थान से दूसरे स्थान जाने लिए हवा सहायक होती हे।

3 . दूसरे ग्रहो पर भी बादल होते हे जैसे की शुक्र ग्रह पर बादल सल्फर ऑक्साइड के होते हे। 

4 . बादल सूर्य प्रकाश को रिफ्लेकट करते हे जिसकी वजह से बादल हमें सफ़ेद रंग के दिखाई देते हे। 

5 . क्या आप जानते हे की ईरान में बादल को " भाग्यशाली का प्रतिक " माना जाता हे यानिकि ईरान में किसी को आशीर्वाद देते वक्त " Your Sky Is Always Filled With Cloud " कहा जाता हे। 

6 . अगर किसी भी स्थान पर चार इंच से अधिक बारिश हो जाये तो उसे बादल फटना कहा जाता हे। 

7 . बादल के कई रंगो के और कई आकर के होते हे। यानिकि बादल लाल , भूरे , काले या सफ़ेद भी होते हे। 

8 . भूरे रंग के बादल तूफान आने का संकेत देते हे। 

9 . इस दुनिया में सबसे अधिक बादल अंटार्टिका हिंदमहासागर के ऊपर दिखाई देते हे। 


10 . बादल इतने भारे होने के बावजूत भी वो धरती पर नहीं गिरते क्योकि उनका मुख्य वजह बादलो में मौजूद पानी की छोटी - छोटी बुँदे हे जो की एक माइक्रोन साइज से भी छोटी होती हे। 

11 . बादलो में लाखो टन से भी अधिक पानी हो सकता हे। 

12 . बादलो से गिरने वाले पानी को हम बारिश या वर्षा कहते हे।

13 . बादल का निर्माण में कूच मिनटों या कई घंटे भी हो सकते हे वो उनके आकर पर निर्भय होता हे। 

14 . धुंध भी एक प्रकार का बादल ही होता हे मगर ये ज़मीन के बहुत ही करीब होता हे धुंध में चलना बादलो में चलने के बराबर ही होते हे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें