एक ग़रीब लड़की बनी पोलिस ऑफिसर – Motivation Story In Hindi

हैलो दोस्तों आप सभी को में दिल से स्वागत करता हुं। के आज में इस कहानी में आपको एक साहसी लड़की के बारे बताने वाला हुं। जो बोहत गरीब परिस्थिति में रहती थी। लेकिन वो अपने साहस से एक पोलिस ऑफिसर बनना चाहती थी। लेकिन उसके गरीब होने के कारण वो अपने लक्ष्य में आगे नहीं बढ़ पा रही थी। लेकिन उसने पुरे दिल से महेनत की और वो अपने लक्ष्य में कामयाब हो गई। तो चलो इस कहानी को देख लेते हे। 
 

            
ग़रीब लड़की बनी पोलिस ऑफिसर – Best Hindi Motivation Story 2020 
           ये कहानी एक साहसी लड़की की हे जो की उसका जीवन काफी दुःखो से भरा हुआ था। वो बहोत गरीब थे। उतने गरीब की दो टाईम का खाना भी उसको नसीब नहीं होता था। लेकिन वो बहोत ही साहसी लोग थे। अपना आत्मविश्वास कभी नहीं गवाते थे। वो छोटा ही परिवार था। पर अंतंत गरीब था। उस परिवार में एक लड़की थी वह पढ़ाई करती थी। वो लड़की पढ़ाई में अच्छी थी। लेकिन उनके पास पढ़ने के लिए पैसा न होने के कारण वह लड़की गांव की सहकारी स्कुल में पढ़ाई करती थी। पढ़ाई में इस लड़की का हंमेशा प्रथम नंबर पर आती थी। उनको स्कुल से जो स्कॉलरशिप मिलती थी। उस स्कॉलरशिप का उपयोग वो घर खर्च के लिए दे देती थी। और जो उसको जरूत पड़ती तो वो उसमे से थोड़े पैसे ले लेती थी। वो बहोत ही साहसी लड़की थी जैसे-जैसे समय बीतता गया वैसे-वैसे वो लड़की बड़ी होती गई उसका सपना था की बड़ी होकर में पोलिस बनुगी वो सपना पूरा करने के लिए वो रात दिन महेनत करती और घर में उनकी मम्मी पप्पा की मदद करती।

देखते-देखते वो दसवीं में आ गई उसके बाद दसवीं की फाईनल एग्ज़ाम की वो तैयारियां करती की उनकी माँ अचानक बीमार हो जाती हे। उनको अस्पताल पहोचता हे। लड़की के पर घीरे-घीरे घर की जिम्मेदारीया आने लगी। फिर भी उसने पढ़ना नहीं छोड़ा वो घर का सारा काम करने के बाद स्कुल जाती और आनेके बाद खाना बनाती उनकी मम्मी का ख्याल भी रखती और फिर अपनी पढ़ाई करती। फिर समय बीतता गया और दसवीं की एग्ज़ाम नजदीक आ रही थी की वो लड़की की माँ मर जाती हे। लड़की बहोत ही दुःखी होती हे। लेकिन वैसी हालत में भी उनसे अपने लक्ष्य को हटने नहीं दिया उसने साहस बनाये रखा उसने वैसी हालत में भी दसवीं की एग्ज़ाम दी और वो पास हो गई उसने फिर आगे पढ़ाई जारी रखी वो पढ़ाई के साथ-साथ अपने भाई बहेन को भी ख्याल रखती और घर का काम करती थी। और जो टाईम बचता उसमे बाजु के घर में जादु पोछा लगाती थी। उससे जो पैसा मिलता उससे वो घर का सामान लाती


देखते-देखते उसका पढ़ना पूरा हो गया और वो पोलिस की तैयारीया करने के लिए वो रात दिन महेनत करती और पोलिस बनने के लिए सुबह को 5 बजे दौड़ने के लिए जाती लेकिन उस कड़की ने कभी हार नहीं मानी थी। क्युकी वो बहोत ही साहसी लड़की थी। उसने मन में ये ले रखा था की वो पोलिस बनके ही रहुंगी। फिर एक दिन उस लड़की ने पोलिस में फॉर्म भरा और उसकी पुरेपूरी तैयारी में लग गई उनकी महेनत उसके पर बहोत ही हावी हो रही थी। और उसका साहस बढ़ता जा रहा था। उसकी भर्ती हुई और वो पास हो गई। वो बहोत ख़ुश हो जाती हे की में पास हो गई उसको लगा की उसकी ये नौकरी के कारण वो अपने परिवार को गरीबी से ऊपर ला सकेगी और खुश रख पायेगी उनके भाई बहेन को पढ़ा सकेगी और अच्छे स्कुल में एडमिशन दिला सकेगी। इस लिए वो बहोत ही खुश होती हे।


उसके बाद वो पोलिस की भर्ती के लिए बुलाया गया। उसने बहा भी उसकी महेनत से वो परीक्षा में भी पास हो गई और वो पोलिस बन गई उसका सपना पूरा हो गया और उसका साहस उसको लक्ष्य तक पहोचने में उनकी मदद की जब उसके पास कुछ भी नहीं था। तो उसके पास आत्मविश्वास और साहस उसके लिए काम करता था। उसका साहस ही उनका परिणाम बना और उसके साहस से वो अपना सपना पूरा कर पाई। हमे भी हमारी जिंदगी में आने वाले दुःखो को देखने के बाद हमे साहस करना पड़ता हे तभी हम हमारा सपना पूरा कर करते हे। और हमारे लक्ष्य तक पहोच सकते हे।


दोस्तों इस कहानी से ये प्रेरणा मिलती हे की अगर हम पुरे दिल से महेनत करे तो हम किसी भी हाल में और हमारे साहसे हम किसी भी लक्ष्य तक पोहच सकते हे। अगर हमे आत्मविश्वास हो तो हमारा कोई भी काम रुक नहीं सकता हे। इस लिए हमे हमारे लक्ष्य तक पोहच ने के लिए पुरे दिल से महेनत करनी चाहिए। चाहे कैसे भी हालत हो हमे हमारे लक्ष्य पीछे नहीं हटना चाहिए और हमारे लक्ष्य को पाने केलिए पुरे दिल से महेनत करनी चाहिए। 

अगर आपको एक ग़रीब लड़की बनी पोलिस ऑफिसर – Motivation Story In Hindi ये आर्टिकल पसंद हे तो आप उसे अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।