एक गरीब लड़की बनी डॉक्टर - Motivation Story In Hindi 2020

हैलो दोस्तों आप सभी को में दिल से स्वागत करता हुं। के इस कहानी में आज आपको एक छोटी सी लड़की बारे में बात करने वाला हुं। जो अपनी महेनत से अपनी और अपने पापा का सपना साकार करना चाहती थी। पर उनकी हालत गरीब होने के कारण वो अपना सपना साकार करने में असमर्थ रही थी। लेकिन उसने फिर भी हार नहीं मानी उसने पढ़ाई की और वो डॉक्टर बनी और इस तरा उसने अपना सपना साकार किया। तो चलो दोस्तों इस कहानी को देख लेते हे। 

एक गरीब लड़की की कहानी - Best Hindi Motivation Story 2020

एक गरीब लड़की की कहानी - Best Hindi Motivation Story 2020 

        एक गांव था। इस गांव में एक छोटा सा परिवार रहेता था। उस परिवार में खाली दो ही लोग थे। एक लड़की और लड़की के पापा दो ही थे। पर उनके पास रहने के लिए घर भी नहीं था। वह एक छोटी सी झोपडी में रहते थे। उनके पास खाने के लिए कुछ नहीं था। की न पहेनने के लिए वो लड़की के पापा घर-घर पे जाकर कुछ खाना मांगकर लाते हे। और फिर दोनों थोड़ा-थोड़ा खाना बाटकर खाते थे। उनके कपड़े काफ़ी गंदे थे। इसलिए जब भी वो खाना मांगने जाते तो लोग उनके दूर से खाना देते और कहते की इनके पास जाने से कोई भी रोग हो सकता हे। ये सारी बाते वो छोटी लड़की सुन रही थी। लोग ये भी कहते की अगर किसी को रोग हो गया तो इस गांव में तो अस्पताल भी नहीं हे। तो दवा लेने के लिए कहा जायेगे ऐसी बाते गांव के लोग कर रहे थे।

       लड़की बहोत उदास हो जाती थी। ये सब बाते सुनकर और वो अपने पापा को रडता नहीं देख सकती थी। कई बार तो कोई उनको खाना भी नहीं देता था। एक बार लड़की ने उनके पापा को कहा की वो पढ़लिख कर डॉक्टर बनना चाहती हे। और जब वो डॉक्टर बन जायेगी तो वो इस गांव में असपताल बनायेगी। ये बाते सुनकर उनके पापा बोले की बेटा डॉक्टर बनना और पढ़ाई करना हमारी बस की बात नहीं हे। तभी लड़की ने कहा की में डॉक्टर ही बनुगी। फिर दूसरे दिन से मिना कम करती और पैसा लाती। एक बार के जा रही थी। तभी एक बाई ने उसे कहा की अगर तुम मेरे घर का संडास साफ रोज करोगी तो तुम्हें रोज पैसा दूंगी तभी लड़की ने संडास साफ करने लगी। फिर उसे कुछ पैसे मिलते उनसे वो अपने लिए और पापा के लिए खाना लाती थी।

        फिर एक दिन वो गांव की सरकारी स्कुल की टीचर से मिली और फिर वो स्कुल जाने लगी वो बहोत ही महेनत लगी वो अपनी महेनत से हर क्लास में प्रथम आती थी। हर बार उनको अच्छे नंबर मिलते थे। उनसे वो बहोत ही खुश होती थी। उनके पापा भी खुश होते थे। वो पढ़ाई में बहोत अच्छी थी। वो ग्रेज्युऐसन पूरा करने के बाद वो आगे डॉक्टर नी पढ़ाई करवा चाहतीं ती। तेने जे स्कुल से स्कॉलरशिप मिलती थी। वो पैसे लेके वो डॉक्टर की पढ़ाई करने के लिए विदेश जाना चाहती थी। उस दिन से उनके पापा टीचर के यहां रहने लगे। घीरे-घीरे समय बीतता गया। टीचर के परिवार में से दो लोग बहोत ही बीमार हो गए। लड़की के पापा की भी तबयत अच्छी नहीं थी। 

      तभी उनको गांव के छोटे से हॉस्पिटल में भर्ती किया गया लेकिन वहां अच्छी सगवड नहीं मील रही थी। तभी किसी ने आकर बताया की बड़े शहेर से बड़ी डॉक्टर मेडम आई हे। वो सभी को ठीक कर देगी तभी सब ने देखा तो सब लोग देखते ही रह गए क्योंकि वो डॉक्टर और कोई नहीं वो गरीब लड़की थी। जो अपनी रात दिन की महेनत से वो आज अपने सपने को साकार कर रही थी। उनका सपना साकार करने के लिए और अपनी परीस्थिति सुघारने के लिए उसने महेनत की थी और उसमे वो साकार हो गई थी। उसने सब को दवाई देकर ठीक कर दिया और गांव में एक असपताल खोला जो काफ़ी ही अच्छा और बड़ा था। जिसमे सब दर्दी को अच्छा से ख्याल रखा ज्याता था।  

दोस्तों हमे इस कहानी में से ये प्रेरणा मिलती हे की अगर हम कोई भी काम करे तो उसमे पूरी महेनत से करे तो वो जरूर सफल होता हे। हमारे अंदर कुछ पाने का आत्मविश्वास हो तो हम वो जरूर कर सकते हे। कोई भी व्यक्ति कितना भी गरीब क्यु न हो हमे उसका मजाक नहीं बनाना चाहिए। 

अगर आपको एक गरीब लड़की बनी डॉक्टर - Motivation Story In Hindi ये आर्टिकल पसंद हे तो आप उसे अपने दोस्तों के साथ भी सेर करे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

close button